Bahadurgarh's Leading Newspaper

सैंकडों करोड की पब्लिक प्रोपर्टी को हडपने वालों को सरकार का समर्थन:- नफे सिंह राठी

8
छोटूराम नगर में अपने जन-जागरण अभियान के दौरान लोगों को संबोधित करते हुए पूर्व विधायक नफे सिंह राठी ने कहा कि शहर में करोडों रुपये की सरकारी व नगर परिषद की जमीन पर हो रहे अवैध कब्जों में जो लोग शामिल है, उन्हें सरकार का आर्शीवाद प्राप्त है। पिछले चौबीस दिन में मिडिया में महाघोटाला उजागर होने के बाद भी अधिकारी उपरी दबाव में चुप-चाप बैठकर दिन-रात अवैध निर्माण करा रहे है और भू-माफिया किस तरह से पब्लिक प्रोपर्टी कब्जे करा रहा है यह सबके सामने है। राठी ने कहा कि इस बारे में 28 दिसंबर 2017 को मुख्यमंत्री, लोकल बॉडी मिनिस्टर, पीडब्ल्यूडी मंत्री, चीफ सैकेट्री हरियाणा साहित 18 अधिकारियों व नेताओं को पत्र लिखकर इस महाघोटाले को रोकने का अनुरोध किया था और चंडीगड में चीफ सेकेट्री हरियाणा, पीडब्ल्यूडी मंत्री व लोकल बॉडी मंत्री के पति व भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता से मिलकर यह शिकायत की थी। 3 जनवरी 2018 को चंडीगढ में पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर सिंह के दफ्तर में जाकर सरकारी जमीन पर हो रहे कब्जों पर उन्हें अवगत कराया था। लेकिन आज तक कब्जा कारवाई जारी है। उन्होंने कहा कि इस महाघोटाले में कौन लोग शामिल है उनको उजागर करने व पब्लिक प्रोपर्टी को बचाने के लिए 19 जनवरी को रेलवे स्टेशन के पास इक_ा होकर शहर में जुलूस निकालकर प्रशासन का पुलता फूंका जाएगा। नहीं तो सरकार इससे पहले अवैध निर्माण गिरा दे और भू-माफिया के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करें।
नफे सिंह राठी ने कहा कि इसी भू-माफिया ने बहादुरगढ के 1925 के बाद का सारा रिकार्ड दो महीने पहले इसी मकसद से चोरी कराया था। जो आज तक बरामद नहीं हुआ है। इससे आगे आने वाली पीढियों को भी बडी दिक्कत का सामाना करना पडेगा। उन्होंने कहा कि पूरे बहादुरगढ के लोगों को अच्छी तरह से पता है कि वो नोमिनेट पाष्रद जो इस महाघोटाले को अंजाम देने पर लगे हुए है वो किस की सिफारिश पर नोमिनेट हरियाणा सरकार ने किए है। बहादुरगढ के भाजपा विधायक व कांग्रेस की चेयरपर्सन चुप रह कर क्या घोटाले का समर्थन कर रहे है? नगर परिषद ने खुद ही पीडब्ल्यूडी व नगर परिषद की जमीन के नक्शे किस के दबाव में पास कर दिए। नक्शा रद़्द करने की पॉवर डीसी को है लेकिन राजनीतिक दबाव की वजह से नक्शे रद्द नहीं किए जा रहे। क्योंकि बीजेपी के विधायक, कांग्रेस की नगर परिषद चेयरपर्सन की ढाल बने हुए है। सरकार को चाहिए कि सरकारी जमीन को तुरंत खाली करवाए। इस अवसर पर डॉ.सुखबीर, अशोक राठी परनाला, हरिकरण, भगते पहलवान, सोनू सैनी, सुधीर बतरा, ईश्वर राठी, बलवान धनखड, मंजीत राठी, जयसिंह, लखेंद्र, डॉ.मोनू, राज सिंह कोच, मास्टर अमित, पवन सैनी, रवि, नरेंद्र, बदे्र आलम, गजे सिंह आदि उपस्थित रहे। जबकि मंच संचालन रामनिवास सैनी ने किया।

Comments are closed.

%d bloggers like this: